Follow Us:

नये कप्तान राेहित और कोच द्रविड के साथ न्यूजीलैंड पर जीत के इरादे से उतरेगी भारतीय टीम

 
rohit rahul

शाम 7 बजे से शुरू होगा मुकाबला 
जयपुर:
नये कप्तान रोहित शर्मा और मुख्य कोच राहुल द्रविड के मार्गदर्शन में भारतीय टीम बुधवार को यहां तीन मैचों की सीरीज के पहले टी20 मुकाबले में न्यूजीलैंड को हराकर जीत की लय हासिल करना चाहेगी। यूएई में हुए टी20 विश्व कप में मिली कारारी हार के बाद से ही टीम का मनोबल गिरा हुआ है और उसे आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा है। ऐसे में टीम जीत के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहेगी। इस सीरीज में भारतीय टीम को घरेलू मैदान का लाभ मिलेगा जिससे उसका पलड़ा भारी नजर आता है। वहीं इस बार टीम में कई युवा खिलाड़ियों का भी अवसर मिला है जो अपने को साबित करना चाहेंगे। टीम में युवा ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर को भी अवसर दिया गया है। वेंकटेश अगर सफल होते हैं तो भारतीय टीम को तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर के रुप में  हार्दिक पंड्या का विकल्प मिल जाएगा। आईपीएल में  वेंकटेश ने शानदार बल्लेबाजी और गेंदबाजी कर सबका ध्यान खींचा था। 
वेंकटेश के अलावा आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले रुतुराज गायकवाड़, हर्षल पटेल, आवेश खान के लिए भी इस सीरीज में अपने को साबित करने का अच्छा अवसर है। इसके अलावा स्पिनर युजवेंद्र चहल की लंबे समय बाद वापसी हुई है। चहल भी अपनी वापसी को सार्थक साबित करना चाहेंगे। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को आराम दिया गया है और ऐसे में भारत एक और तेज गेंदबाज की तलाश करना चाहेगा जो लगातार 140 किमी प्रति घंटे या उससे अधिक की रफ्तार से गेंदबाजी कर सके। ऐसे में आवेश और युवा मोहम्मद सिराज उस कमी को पूरा करना चाहेंगे। 
अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार यूएई में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। इस सीरीज से उन्हें अपनी लय हासिल करने का एक और अवसर मिला है। कप्तान रोहित और कोच द्रविड़ अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के हालातों को ध्यान में रखकर खिलाड़ियों की योग्यता को आंकना चाहेंगे। इसी को देखते हुए टीम में छोटे प्रारूप के पांच सलामी बल्लेबाज शामिल किये गये हैं और इनको मध्यक्रम में भी आजमाया जाएगा। 
रोहित और उप-कप्तान लोकेश राहुल पहले मैच में पारी की शुरुआत कर सकते हैं पर इशान किशन और रुतुराज के रूप में टीम के पास विकल्प भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा वेंकटेश ने भी आईपीएल में अपने सभी रन सलामी बल्लेबाज के रूप में बनाये पर वह मध्यक्रम में भी बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं। 
सूर्यकुमार यादव विश्व कप के दौरान अपनी लय हासिल नहीं कर पाये पर वह एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें भारत विशेषकर आस्ट्रेलियाई हालातों को देखकर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए तैयार करना चाहता है। ऑलराउंउर रविंद्र जडेजा को आराम दिए जाने के कारण स्पिनर अक्षर पटेल स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर के तौर पर उतर सकत हैं। वहीं अनुभवी आर अश्विन भी अंतिम ग्यारह में शामिल रह सकते हैं। 
वहीं दूसरी ओर विश्व कप के सुपर 12 में भारत को हराने के कारण मेहमान टीम न्यूजीलैंड का मनोबल बढ़ा हुआ रहेगा पर उसे अपने कप्तान केन विलियमसन की कमी खेलेगी। विलियमसन ने टेस्ट प्रारुप पर ध्यान देने के लिए टी20 से नाम वापस ले लिया है। ऐसे में उनकी जगह तेज गेंदबाज  टिम साउदी टीम की कप्तानी करेंगे। टीम के मुख्य कोच गैरी स्टीड का मानना है कि उसकी टीम को कई प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है जिसमें विश्व कप फाइनल की निराशा के बाद फिर से एक इकाई की तरह खेलना भी है। इसके बाद भी टीम को कम नहीं आंका जा सकता है क्योंकि उसके पास शानदार बल्लेबाज हैं और यह उसने इंग्लैंड को हराकर साबित किया है। 
साउदी के साथ गेंदबाजी की शुरुआत ट्रेंट बोल्ट करेंगे जबकि बल्लेबाजी में डेरिल मिचेल जैसे खिलाड़ी उसके पास है। 
इस सीरीज में कीवी टीम भी उन खिलाड़ियों को अवसर दे सकती है। जिन्हें यूएई में अवसर नहीं मिला था। इनमें काइल जैमीसन भी शामिल हैं जो केवल अभ्यास मैचों में खेले थे। इस श्रृंखला में स्पिनर ईश सोढ़ी को खेलना भारतीय बल्लेबाजों के लिए आसान नहीं रहेगा। ईश ने टी20 विश्व कप में कई स्टार बल्लेबाजों का आउट किया था। 
दोनो टीमें इस प्रकार हैं : 
भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), लोकेश राहुल, रुतुराज गायकवाड़, श्रेयस अय्यर, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, ईशान किशन, वेंकटेश अय्यर, युजवेंद्र चहल, आर अश्विन, अक्षर पटेल, आवेश खान, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, हर्षल पटेल, मोहम्मद सिराज। 
न्यूजीलैंड : टिम साउदी (कप्तान), टॉड एस्टल, ट्रेंट बोल्ट, मार्क चैपमैन, लॉकी फर्गूसन, मार्टिन गुप्टिल, काइल जैमीसन, एडम मिल्ने, डेरिल मिचेल, जिमी नीशम, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, टिम सीफर्ट, ईश सोढ़ी।