Follow Us:

सीएम योगी ने भगवान राम और माता सीता की आरती कर किया राजतिलक, पूरा अयोध्या रामधुन में डूबा

 
yogi

अयोध्या: अयोध्या में भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम की शुरुआत हो चुकी है।बुधवार को अयोध्या में 12 लाख दीये जलाए जाएंगे।गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम इनकी गिनती करेगी। बताया जा रहा कि 12 लाख दीयों में राम की पैड़ी पर 9 लाख और अयोध्या के बाकी हिस्सों में 3 लाख दीपक जलने है। अयोध्या में भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम चल रहा है। कार्यक्रम की शुरुआत शोभायात्रा और झांकियां निकालकर की गईं।डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने अयोध्या में भगवान राम की शोभा यात्रा को रवाना किया।उधर, कार्यक्रम स्थल पर भगवान राम और माता जानकी हेलिकॉप्टर से पहुंचे। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने उनका स्वागत किया। राम और सीता की आरती कर भगवान का राजतिलक किया। इसके पहले मुख्यमंत्री योगी ने अयोध्या में 661 करोड़ रुपये की 50 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।
दीपोत्सव के मौके पर अयोध्या पहुंचे डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा कि एक कारसेवक के रूप में यहां आया था।आज मेरे लिए भी बड़ा दिन है।जिन्होंने राम भक्तों को गोलियों से भून डाला, उनसे और कुछ अपेक्षा नहीं की जा सकती। पिछली सरकारों में तुष्टिकरण की घटिया राजनीति हुई है।मुख्यमंत्री योगी ने अयोध्या में आयोजित कार्यक्रम में भगवान राम का किरदार निभा रहे कलाकार का सांकेतिक राजतिलक किया।सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम 5 वर्ष पहले शुरू किया था और तब से लगातार ये आयोजन अपनी नई ऊंचाईयों को छूता दिखाई दे रहा है। 
सीएम ने शोभा यात्रा का स्वागत किया। हेलिकॉप्टर से राम और सीता का आगमन हुआ।अयोध्या में झांकियां निकल रही हैं।पूरा अयोध्या रामधुन में डूब गया है।यहां रामपैड़ी और अन्य घाटों पर 12 लाख दीये लगाने का काम पूरा हो चुका है।जब ये दीये जलाए जाएंगे,तब इस खास पल को ड्रोन के जरिए रिकॉर्ड किया जाएगा। 
इसके पहले सीएम ने बताया कि अन्नपूर्णा देवी की मूर्ति करीब 100 साल पहले चोरी हुई थी। यह कनाडा की यूनिवर्सिटी में पहुंच गई थी।यह पीएम मोदी के प्रयासों से भारत सरकार को प्राप्त हो चुकी है।पीएम मोदी की अनुकंपा से यह उत्तर प्रदेश सरकार को मिली है।सीएम योगी ने इसके लिए पीएम मोदी को धन्यवाद कहा। 11 नवंबर को मूर्ति को दिल्ली में प्राप्त करेगी।इस दौरान उत्तर प्रदेश मंत्री शामिल होने वाले है।