Follow Us:

देश में डेंगू के 1.16 लाख केस

 
dengue

-चिकनगुनिया-मलेरिया का भी अटैक, केंद्र ने 9 राज्यों में भेजी टीमें
दिल्ली:
 देश में डेंगू के अब तक 1,16,991 केस मिल चुके हैं। दिल्ली में अकेले 1,530 केस सामने आए हैं। इनमें से 1200 केस अक्टूबर में मिले हैं। ये पिछले चार साल में सबसे ज्यादा हैं। इससे पहले 2017 में दिल्ली में अक्टूबर में डेंगू के 2022 केस मिले थे।
गतदिनों दिल्ली में डेंगू से 5 लोगों की मौत हुई। अब तक दिल्ली में 6 लोगों की मौत हो चुकी है। यह भी चार साल में सबसे ज्यादा हैं। जनवरी से अक्टूबर की बात करें तो 2020 में 612, 2019 में 1069 और 2018 में 1595 केस सामने आए थे। इस साल 23 अक्टूबर तक 1,006 केस सामने आए। इसके बाद एक हफ्ते में 530 केस सामने आए। जबकि 5 लोगों की मौत हुई। दिल्ली में सितंबर में 217 डेंगू केस सामने आए थे। वहीं, 2019 में पूरे साल में सिर्फ 1072 केस सामने आए थे, जबकि एक की मौत हुई थी।
डेंगू के साथ चिकनगुनिया-मलेरिया का भी अटैक
डेंगू के साथ साथ चिकनगुनिया-मलेरिया के केस भी बढ़ रहे हैं। अब तक दिल्ली में मलेरिया के 160 केस जबकि चिकनगुनिया के 81 केस सामने आए हैं। दिल्ली के अस्पतालों में बड़ी संख्या में बुखार और जुखाम के मरीज आ रहे हैं। इनमें से ज्यादातर डेंगू और मलेरिया के हैं। मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया में भी तेज बुखार होता है और ऐसे में मरीजों को कोरोना का भ्रम भी होता है। हालांकि, डेंगू के बढ़ते मामलों के बीच तीनों नगर निकायों ने फॉगिंग और छिड़काव अभियान तेज कर दिया है।
केंद्र ने 9 राज्यों में भेजी टीम
डेंगू के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार भी एक्टिव मोड में आ गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने डेंगू से सबसे ज्यादा संक्रमित 9 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक्सपर्ट की टीमें भेजी हैं, ताकि बीमारी के नियंत्रण और प्रबंधन में राज्यों की मदद की जा सके। केंद्र की ओर से जिन राज्यों में टीम भेजी गई है, वे हरियाणा, केरल, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली और जम्मू कश्मीर हैं। इतना ही नहीं स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने मंत्रालय को निर्देश दिए हैं कि डेंगू के ज्यादा केसों वाले राज्यों को हर संभव मदद दी जाए।