Follow Us:

उग्रवादियों के हमले में असम राइफल्स के कमांडिंग अफसर, पत्नी, पुत्र और 4 जवानों समेत 7 लोगों की मौत

 
assam rifles
colइंफाल: मणिपुर में उग्रवादियों ने असम राइफल्स के कमांडिंग अफ़सर और उनके परिवार पर घात लगाकर कर किए गए हमले में कमांडिंग अफसर के परिजनों और क्विक रिएक्शन टीम के चार सदस्यों समेत सात लोगों की मौत हुई है। पुलिस ने बताया कि यह हमला शनिवार सुबह लगभग 10 बजे के करीब शेखन-बेहिआंग पुलिस स्टेशन इलाक़े में किया गया। इस घटना पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री नोंगथोम्बम बीरेन सिंह ने दुख जताया है। राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया-मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर कायराना हमला बेहद दर्दनाक व निंदनीय है।
पुलिस ने बताया कि 46 असम राइफल्स के कमॉडिंग अफ़सर अपने परिवार और क्विक रिएक्शन टीम (क्यूआरटी) के साथ जा रहे थे। घात लगाए बैठे उग्रवादियों ने उनके काफिले पर अचानक हमला कर दिया। इस हमले कमॉडिंग अफसर, उनकी पत्नी, एक बच्चा और क्यूआरटी में तैनात 4 जवानों की मौत हो गई। सेना ने इस बारे में अभी कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है। 
जानकारी के अनुसार आतंकियों ने इस घटना को मणिपुर के चराचांदपुर जिले में म्यांमार की सीमा के पास अंजाम दिया है। आतंकियों को शायद पहले से ही अधिकारी के मूवमेंट की भनक लग चुकी थी। मणिपुर के मुख्यमंत्री नोंगथोम्बम बीरेन सिंह ने हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि इस तरह की कायराना हरकतों को स्वीकार नहीं जाएगा। वह दोषियों पर कानूनी कार्रवाई करने की पूरी कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा यह अमानवीय और आतंकी कृत्य है। उन्होंने कहा राज्य बल और अर्द्धसैनिक बलों ने उग्रवादियों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू किया है।  मुख्यमंत्री ने कहा इस घटना में शामिल दोषियों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाएगा।