Follow Us:

जो राजनीति करना चाहता है करेगा और जो किताब लिखना चाहता है लिखेगा, विवादों पर सलमान खुर्शीद

 
salman khursheed

नई दिल्ली: अपनी किताब को लेकर उपजे विवाद पर कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने मीडिया के सामने कुछ सवालों के जवाब दिए। खुर्शीद ने तंज कसते हुए कहा कि जो राजनीति करना चाहता है, करेगा और जो किताब लिखना चाहता है, वह लिख देगा। उन्होंने कहा कि मेरी किताब हिंदू मुस्लिम एकता को लेकर है। दरअसल, हिंदुत्व की तुलना कट्टर इस्लामी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट और बोको हराम से करने पर कांग्रेसी नेता सलमान खुर्शीद ने बड़ा विवाद खड़ा कर दिया है। भाजपा ने इसे कांग्रेस की हिंदू विरोधी सोच करार दिया तो पार्टी के ही नेता गुलाम नबी आजाद ने हिंदुत्व की तुलना इस्लामी जिहाद से करना तथ्यात्मक रूप से गलत और अतिशयोक्ति करार दिया था। सलमान खुर्शीद ने कहा कि उनकी किताब हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए है। सलमान खुर्शीद ने विरोध करने वालों पर राजनीती करने का आरोप लगाया। कहा कि जिसको राजनीती करनी है वो करेगा और जिसने किताब लिखनी है वो लिखेगा। मैंने अपनी किताब के माध्यम से सुप्रीम कोर्ट के फैसले को बताया है कि वो सही फैसला है। सलमान खुर्शीद ने कहा, ''जो लोग जिस भी मजहब के हों वो अगर मजहब का दुरुपयोग करेंगे तो हम उसे रिजेक्ट करें चाहे वो दुनिया के किसी भी कोने का हो। मुझे लगता है कि जो लोग राजनीती करना चाहते हैं उन्हें डर लगता है कि अब सच्चाई सामने आ रही है। बता दें कि कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद अपनी किताब 'सनराइज ओवर अयोध्या' पर राजनीतिक विवाद के कारण सुर्खियों में हैं।