Follow Us:

श्रीनगर-शारजाह उड़ानों को पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस देने से मना किया

 
air space
जम्मू: जम्मू-कश्मीर में की जा रहे विकास कार्यों से खीझे पाकिस्तान ने श्रीनगर शारजाह उड़ानों के लिए अपना एयरस्पेस इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी है। हाल में ही भारत के गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर से शारजाह के लिए उड़ानों को शुरू किया था। पाकिस्तान के इस निर्णय से शारजाह जाने वाली उड़ानों का समय औरु किराया बढ़ जाएगा। अब शारजाह जाने वाले विमानों को उदयपुर और अहमदाबाद के रास्ते शारजाह जाना होगा। इस वजह से सफर में अतिरिक्त समय लगेगा और यात्रियों पर आर्थिक बोझ भी बढ़ेगा। पाकिस्तान ने उड़ानों को अपने क्षेत्र से गुजरने के लिए सीधे तौर पर मना कर दिया है। पाकिस्तान का यह कदम अंतरराष्ट्रीय उड़ान मानदंडों का उल्लंघन है। 
गौरतलब है कि श्रीनगर से शारजाह के लिए शुरू हुई उड़ान सेवाओं का सबसे ज्यादा लाभ कश्मीर के लोगों को हो रहा था। बताया जाता है कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय और विदेश मंत्रालय को भी पाकिस्तान के इस हरकत की पूरी जानकारी मिल गई है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शेख उल-आलम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से श्रीनगर-शारजाह की पहली सीधी उड़ान को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था, जिससे 11 साल बाद फिर से घाटी और संयुक्त अरब अमीरात के बीच सीधे हवाई संपर्क की शुरुआत हो गई थी। 
एयर इंडिया एक्सप्रेस ने 14 फरवरी, 2009 को श्रीनगर हवाई अड्डे से दुबई के लिए पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू की थी, लेकिन यात्रियों की कमी के कारण इस साप्ताहिक सेवा को बंद कर दिया गया था। पहले गोएयर के नाम से जानी जाने वाली गो फर्स्ट श्रीनगर से सीधी अंतरराष्ट्रीय यात्री और मालवाहक उड़ान का संचालन शुरू करने वाली पहली एयरलाइन है।