Follow Us:

हनी ट्रैप मामला, पाकिस्तानी महिला को खुफिया जानकारी देने के मामले में गिरफ्तार सेना का जवान

 
honney trap

पटना: आईबी की सूचना पर बिहार एटीएस ने पटना में बड़ी कामयाबी हासिल की है।खुद को नेवी की मेडिकल टीम का स्टाफ बताने वाली पाकिस्‍तानी महिला को खुफिया जानकारी देने के आरोप में पटना के दानापुर इलाके से सेना के जवान को गिरफ्तार किया है। सेना के जवान पर आरोप है कि वह फील्‍ड इन्फार्मेशन पड़ोसी देश की महिला को फोन पर देता था।जवान पर कुछ गोपनीय दस्तावेज साझा करने के भी आरोप लगे हैं। हनी ट्रैप के मामले में गिरफ्तार जवान ने प्रारंभिक पूछताछ में अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। आरोपित बिहार के नालंदा निवासी मुकेश कुमार है। उसकी अभी पुणे में पोस्टिंग है। जवान से खगौल थाने में आइबी, सेना के अधिकारी और एटीएस पूछताछ कर रही है।  
नालंदा जिले के अस्थावां गांव निवासी मुकेश कुमार सेना में मेडिकल कोर का जवान है। वर्तमान में उसकी पोस्टिंग महाराष्ट्र के पुणे में है।जवान पर आरोप है कि पाकिस्तान में रह रही एक महिला को सेना से जुड़ी खुफिया जानकारी साझा कर रहा था। महिला की जवान से फोन पर बात होती थी। आरोप यह भी है कि वह गोपनीय दस्तावेज भी पाकिस्तानी महिला से साझा करता था। आइबी की रिपोर्ट पर छठ के दो दिन पहले से ही बिहार एटीएस की टीम जवान के पीछे लगी थी। पुष्टि होने पर रविवार को उसकी गिरफ्तारी की गई। उसपर गुप्त जानकारी साझा करने का आरोप है। 
सूत्रों के अनुसार जवान ने पाकिस्तानी महिला के साथ कई अहम जानकारी साझा करने की बात को स्वीकार किया है। बताया जाता है कि महिला से दो साल पहले उसकी दोस्ती हुई थी। तब वह राजस्थान के जोधपुर में था। पाकिस्तानी महिला ने खुद को नेवी की मेडिकल टीम का स्टाफ बताया था। बता दें कि मामले की जानकारी आइबी ने बिहार एटीएस को दी थी। गुप्त सूचना मिलने पर रविवार की दोपहर एटीएस ने दानापुर इलाके से जवान को गिरफ्तार किया है। आरोपित को खगौल थाने में लाकर पूछताछ की जा रही है।