Follow Us:

हरिद्वारः सहकारी बैंक में चोरी मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने किया दो आरोपियों को गिरफ्तार

 
chori

हरिद्वार (दैनिक हाक): ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्रांर्गत सीतापुर अण्डर पास के समीप स्थित सहकारी बैंक में हुई चोरी के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से 315 बोर का देशी तमंचा व कारतूस तथा ऑल्टो कार बरामद हुई है। दोनों आरोपी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फर नगर जनपद के रहने वाले हैं। एक आरोपी अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है। 
ज्वालापुर कोतवली प्रभारी चन्द्र चन्द्राकर नैथानी ने बताया कि बीती 12 दिसम्बर को बैंक प्रबंधक ने रोशनदान की जाली तोड़कर घुसे अज्ञात चारों द्वारा मॉडम व राउटर चोरी कर लिए जाने के संबंध में मुकद्मा दर्ज कराया था। मुकद्मा दर्ज करने के बाद पुलिस व सीआईयू की टीमों को चोरों की धरपकड़ के लिए लगाया गया था। घटना के खुलासे व आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए जुटी पुलिस टीम को सीसीटीवी फुटेज की जांच के दौरान घटनास्थल के आसपास एक काले रंग की ऑल्टो कार की गतिविधियां संदिग्ध लगने पर उसकी तलाश तेज की गयी। जांच पड़ताल के दौरान पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार सीसीटीवी फुटेज में दिखी कार को रेगुलेटर पुल के पास पकड़ लिया। कार में सवार लोगों की तलाशी लेने पर उनके पास से एक देशी तमंचा व कारतूस बरामद हुआ। पूछताछ में उन्होंने अपने नाम अजीमखान व शेरखान निवासी पुरकाजी मुजफफ्रनगर बताए। पूछताछ में दोनों ने बताया कि उन्होंने अपने एक अन्य साथी ललित निवासी नया गांव बुलन्दशहर यूपी के साथ मिलकर चोरी वारदात को अंजाम दिया था। उनका इरादा बैंक के स्ट्रांग रूप में घुसने का था। लेकिन कामयाब नहीं हो पाने पर मॉडम व राउटर आदि सामान को डीवीआर समझकर चोरी कर फरार हो गए थे। जिसे वापस जाते समय रास्ते में फेंक दिया था। 
कोतवाली प्रभारी ने बताया कि गिरफ्तार दोनों आरोपी शातिर किस्म के अपराधी हैं। शेरखान के खिलाफ हरिद्वार व यूपी के मु.नगर जनपद के कई थानों में केस दर्ज हैं। फरार आरोपी की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।