Follow Us:

हरिद्वारः कोविड-19 वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन हेतु जिला टास्क फोर्स समिति की बैठक आयोजित

 
CMO
हरिद्वार (दैनिक हाक): मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में विकास भवन में कोविड-19 वैक्सीनेशन के सफल क्रियान्वयन हेतु जिला टास्क फोर्स समिति की बैठक आयोजित हुई।
बैठक में आगामी 01 एवं 02 नवम्बर, 2021 को पूरे जनपद में कोविड-19 वैक्सीनेशन का महा अभियान चलाने के सम्बन्ध में विस्तृत विचार-विमर्श हुआ।
डॉ0 सौरभ गहरवार ने बैठक में अधिकारियों को दिनांक 01 एवं 02 नवम्बर,2021 को चलाये जा रहे टीकाकरण महा अभियान के लक्ष्य की जानकारी देते हुये बताया कि इन दो दिनों के महा अभियान में टीकाकरण के लिये क्रमशः पचास-पचास हजार का लक्ष्य पूरे जनपद के लिये रखा गया है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि टीकाकरण महा अभियान के लिये संसाधनों एवं वैक्सीन की कहीं कोई कमी नहीं है। अतः आप लोगों को आपस में सामंजस्य व संवाद स्थापित करते हुये टीम भावना से निर्धारित किये गये इस लक्ष्य को प्राप्त करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़नी है।
मुख्य विकास अधिकारी ने बैठक में पिछले एक पखवाड़े के लिये प्रत्येक ब्लॉक के लिये कितना लक्ष्य निर्धारित किया गया था तथा लक्ष्य के सापेक्ष कितना टीकाकरण हुआ, की प्रगति के सम्बन्ध में अधिकारियेां से विस्तृत जानकारी ली। इस पर बहादराबाद, खानपुर, भगवानपुर,, लक्सर, नारसन, हरिद्वार अर्बन, रूड़की अर्बन के टीकारण अभियान से जुड़े अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में टीकाकरण की प्रगति के बारे में मुख्य विकास अधिकारी को बताया।
बैठक में डॉ0 सौरभ गहरवार ने ईमलीखेड़ा के टीकाकरण अभियान से जुड़े अधिकारियों से भी जो लक्ष्य निर्धारित किया गया था तथा उसके सापेक्ष कितना लक्ष्य प्राप्त किया, के सम्बन्ध में जानकारी ली। ईमलीखेड़ा में लक्ष्य के सापेक्ष बहुत कम वैक्सीनेशन होने पर मुख्य विकास अधिकारी ने नाराजगी प्रकट की तथा ईमलीखेड़ा क्षेत्र में वैक्सीनेशन अभियान से जुड़े अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिये।
मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आगामी एक एवं दो नवम्बर,2021 को जो महा अभियान चलाया जायेगा, उसके लिये माइक्रो प्लानिंग, अपनी-अपनी रणनीति तथा कहां क्या व्यवस्था करनी है, के सम्बन्ध में विस्तृत विवरण कल सांय तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यह भी व्यवस्था कराना सुनिश्चित कर लें कि मुख्य-मुख्य चौराहों पर भी टीकाकरण के इंतजाम हांे ताकि वैक्सीन लगने से कोई भी छूटने न पाये।
बैठक में द्वितीय पाली में चार बजे से नौ बजे तक भी टीकाकरण करने के सम्बन्ध में चर्चा हुई। इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि इस सम्बन्ध में एक योजना बना कर प्रस्तुत करें ताकि अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण किया जा सके।
बैठक में चिड़ियापुर इलाके में कमजोर नेटवर्क का मामला भी सामने आया, जिसकी वजह से टीकारण पर प्रभाव पड़ रहा है। इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि गैंडीखाता में टीकाकरण केन्द्र बनाने पर विचार किया जा सकता है। मुख्य विकास अधिकारी को रेडक्रास के सचिव डॉ0 नरेश चौधरी ने बताया कि हमने तीन दिन में सात हजार लोगों को सूचित किया। इस पर मुख्य विकास अधिकारी ने इसी तरह का कार्य रूड़की क्षेत्र के लिये भी करने को कहा।  
इस अवसर पर संयुक्त मजिस्ट्रेट रूड़की श्री अंशुल सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ0 खगेन्द्र मुख्य चिकित्साधीक्षक रूड़की डॉ0 संजय कंसल, ए0सी0एम0ओ0 डॉ0 एच0डी0 शाक्य, डॉ0 पंकज जैन, डॉ0 कोमल, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला पंचायतराज अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, पुलिस अधिकारी सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।