Follow Us:

हरिद्वार: बोनस एवं पीपी भुगतान की मांग को लेकर भेल कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

 
BHEL
हरिद्वार (दैनिक हाक): विगत दो वर्षो के पीपी एवं बोनस के भुगतान की मांग को लेकर हीप एवं सीएफएफपी के 15 श्रमिक संगठनों ने संयुक्त रूप से हीप मेन गेट पर नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया। इस दौरान पंकज शर्मा ने कहा कि भेल हरिद्वार में अभी तक कोई सम्मानजनक इंसेंटिव स्कीम नहीं है। सभी कर्मचारियों के लिए एक सम्मानजनक इंसेंटिव स्कीम लागू की जानी चाहिए। जिसमें सभी कर्मचारियों को शामिल किया जाना चाहिए। विकास सिंह ने कहा कि भेल प्रबन्धन ने कोरोना की आड़ में मजदूरों को दो साल से बोनस एवं पी.पी. का भुगतान नहीं किया है। इसके अलावा मजदूरों को मिलने वाली नाईट एलाउंस, कैन्टीन सब्जिडी, व्हीकल सब्जिडी आदि सुविधाओं में या तो कटौती कर दी गयी या बंद कर दिया है। उन्होंने भेल प्रबंधन से मांग करते हुए कहा कि 6 जनवरी को होने वाली वर्चुअल जॉइंट कमेटी मीटिंग में विगत दो वर्षों का पीपी, बोनस तय करके उसका भुगतान शीघ्र किया जाए।
सौरभ त्यागी ने कहा कि पाँचवें फेस की लॉटरी निकले हुये 17 वर्ष से अधिक हो चुके है। यह मामला कोर्ट में लम्बित है। जिसके चलते कर्मचारियों को भूमि का आवंटन नहीं हो पा रहा है। भेल प्रबंधन वर्ष 2005 के आवेदकों एवं वर्तमान में जो भी कर्मचारी सेवारत है, इस फेस की जमीन पर उन सभी को मल्टी स्टोरी बिल्डिंग बनाकर आवास आवंटित करे।  
इंद्रपाल शर्मा ने कहा की कोरोना से जिन कर्मचारियों की मृत्यु हुई है। उन कर्मचारियों के आश्रित को योग्यतानुसार रेगुलर सेवा हेतु तत्काल पॉलिसी बनाई जाये। क्वार्टर आवंटन एवं मृत्यु सहायता राशि को 5 वर्ष के स्थान पर कर्मचारी की सेवानिवृत्ति तिथि तक किया जाये और जिन कर्मचारियों की सामान्य मृत्यु हुई है। उन्हें भी इस पॉलिसी के अंतर्गत शामिल किया जाये।
मोहित शर्मा ने कहा कि यूनियनों के मान्यता के चुनाव हुये 5 वर्ष से अधिक हो चुके हैं। लेकिन भेल प्रबंधन कोरोना की आड़ लेकर भेल में मान्यता के चुनाव होने नहीं करा रहा है। जबकि पूरे भारतवर्ष में लोक सभा, विधान सभा, नगर निगम, नगर पंचायत आदि के चुनाव हो रहे है और  भेल प्रबन्धन को लोकतान्त्रिक प्रक्रिया का पालन करते हुये तत्काल भेल में यूनियनों के मान्यता के चुनाव कराने चाहिये।
अमित कुमार ने कहा कि भेल में हो रही चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए सभी चैराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। उन्होंने कहा कि यदि भेल को सीआईएसएफ महंगी पड़ रही है तो प्राइवेट सेक्योरिटी की व्यवस्था की जाये।
प्रदर्शन करने वालों में पंकज शर्मा, विकास सिंह, सौरभ त्यागी, संदीप कुमार, मोहित शर्मा, अमित कुमार, हरवंश लाल, राजकुमार, संदीप चैधरी, अतुल मिश्रा, प्रीतम सिंह सौदाई, अमित गोगाना, जयशंकर सिंह, रविंद्र चैहान, सचिन शर्मा, रवि कश्यप, प्रेमचंद सिमरा, नईम खान, रामकुमार, संदीप कुमार, दीपक चैहान, मनमोहन राणा आदि शामिल रहे।