Home > शीर्ष आलेख > कोरोना वायरस संक्रमण में चीन से आगे निकला भारत

कोरोना वायरस संक्रमण में चीन से आगे निकला भारत

कोरोना वायरस संक्रमण में चीन से आगे निकला भारत

नई दिल्ली: भारत ने कोरोना वायरस संक्रमण में चीन को पीछे छोड़ दिया है। भारत में शुक्रवार को रात 10 बजे तक कोरोना वायरस संक्रमण से पीड़ित 85,546 मरीजों का पता चला। इनमें से 2746 की मौत हो चुकी है और 30,089 ठीक हो गए हैं।

भारत में अकेले महाराष्ट्र में 29,100 संक्रमित मिले हैं इनमें से 1068 की मौत हो चुकी है, 6564 ठीक हो चुके हैं। महानगरी मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमण के 17,671 मामले हैं जिनमें से 655 की मौत हो चुकी है और 2944 ठीक हो चुके हैं।

तमिलनाडु अब दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। शुक्रवार को यहां संक्रमण के 434 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या 10,108 हो गई। इनमें से 71 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 359 ठीक हो चुके हैं। गुजरात में भी शुक्रवार को 340 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या बढ़कर 9932 हो गई। इनमें से 606 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 4035 स्वस्थ हुए हैं। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस का संक्रमण 8895 लोगों तक पहुंच चुका है। शुक्रवार को यहां संक्रमण के 425 नए मामले सामने आए। दिल्ली में इस बीमारी से 123 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 3518 ठीक हो चुके हैं। राजस्थान में कोरोनावायरस पीड़ित मरीजों की संख्या में शुक्रवार को 154 का इजाफा हो गया और अब तक यहां 4686 संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 125 की मौत हो चुकी है, जबकि 2677 ठीक हो चुके हैं। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस पीड़ितों की संख्या शुक्रवार को 169 बढ़कर 4595 पर पहुंच गयी, जिनमें से 239 की मौत हो चुकी है और 2283 ठीक हो चुके हैं। इस प्रकार इन 6 राज्य में 63318 मामले हैं जो कि देश के कुल संक्रमित मरीजों का 74.01% है। संक्रमण के मामले में उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, पंजाब, तेलंगाना, कर्नाटक, बिहार, और जम्मू-कश्मीर जैसे राज्य अथवा केंद्र शासित प्रदेश भी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। इन राज्यों में 21,206 कोरोनावायरस संक्रमित मरीज मिले हैं जो कि देश के कुल संक्रमित मरीजों का 24.68 प्रतिशत है। इस प्रकार देखा जाए तो 1000 से ऊपर संक्रमण वाले 14 राज्यों में 98.79 प्रतिशत मरीज मिले हैं। बाकी राज्यों में मरीजों की संख्या चिंतनीय नहीं है। केरल जैसे कुछ राज्यों में संक्रमण की दर बहुत धीमी हो चुकी है। अनेक राज्य ऐसे हैं जहां पिछले 2 सप्ताह से कोई संक्रमण नहीं मिला है। वहीं अनेक राज्यों में इकाई की संख्या में संक्रमित मिल रहे हैं।

जिन 14 राज्यों में कोरोनावायरस सबसे तेजी से फैल रहा है वह देश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले राज्य हैं। इन राज्यों में आर्थिक गतिविधि धीमी पड़ने से देश की अर्थव्यवस्था लड़खड़ा गई है। बेसब्री से लॉक डाउन के चौथे चरण का इंतजार है। देखना है कि इस चरण में कितनी रियायत दी जाएगी। लेकिन चिंता की बात यह है कि उतनी ही तेजी से संक्रमण भी फैल रहा है। तेजी से फैलते संक्रमण के बीच दैनिक गतिविधियों को किस तरह सामान्य किया जाता है इसका सभी को इंतजार है।



Tags:    
Share it
Top