Home > राज्य > उत्तराखण्ड > लीज संपत्ति बनाये गये मेयर और उनके साझेदारों के कॉम्पलेक्स को विकास प्राधिकरण ने किया सील

लीज संपत्ति बनाये गये मेयर और उनके साझेदारों के कॉम्पलेक्स को विकास प्राधिकरण ने किया सील

 Agencies |  2017-07-07 08:23:33.0  0  Comments

लीज संपत्ति बनाये गये मेयर और उनके साझेदारों के कॉम्पलेक्स को विकास प्राधिकरण ने किया सील

रुड़कीः रुड़की के बीटीगंज में लीज संपत्ति बनाये गये मेयर और उनके साझेदारों के कॉम्पलेक्स को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने सील कर दिया। कार्रवाई के दौरान कुछ दुकानदारों ने तहसीलदार का घेराव कर जमकर हंगामा किया लेकिन एचआरडीए टीम ने साफ किया कि कॉम्पलेक्स नियम विरुद्ध है इसलिये इसे सील किया जाएगा। दुकानदारों के विरोध के चलते कॉम्पलेक्स में संचालित हो रही कुछ दुकानों को फिलहाल सील नहीं किया गया है। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।
मालूम हो कि नगर विधायक प्रदीप बत्र ने शासन को शिकायत की थी कि मेयर यशपाल राणा और उनके तीन साथियों ने लीज संपत्ति का गलत ढंग से बैनामा अपने नाम करा लिया। इतना ही नहीं आवासीय संपत्ति को व्यावसायिक संपत्ति में बदलकर एक कॉम्पलेक्स ऽड़ा कर दिया और दुकानों की बिक्री शुरू कर दी गई है। शासन ने मामले को गंभीरता से लेते हुये डीएम हरिद्वार को जांच कर रिपोर्ट देने को कहा। 30 जून को डीएम दीपक रावत ने रुड़की पहुंचकर बैनामों की जांच-पड़ताल की। साथ ही उन्होंने कॉम्पलेक्स का मुआयना कर एचआरडीए को सील करने के निर्देश दिये। इस पर गुरुवार को तहसीलदार मंजीत सिंह गिल, एचआरडीए के सहायक अभियंता विजय माथुर पुलिस बल के साथ बीटीगंज स्थित कॉम्पलेक्स पहुंचे यहां पर उन्होंने सभी को कॉम्पलेक्स ऽाली कर जाने को कहा। इसके बाद कुछ दुकानदारों ने प्राधिकरण की कार्रवाई का विरोध करते हुये तहसीलदार का घेराव किया। इसी बीच टीम ने कॉम्पलेक्स को सील करना शुरू कर दिया। इस बात को लेकर हंगामा ऽड़ा हो गया। टीम के साथ दुकानदारों की नोकझोंक भी हुई लेकिन पुलिस की सख्ती के आगे उनकी एक ना चली। इसके बाद प्राधिकरण की टीम ने कॉम्पलेक्स को सील कर दिया। साथ ही विरोध के चलते उन दुकानों को छोड़ दिया गया है जो ऽुली थी और जिनमें कारोबार चल रहा था। ज्ञात हो कि पिछली सरकार में कांग्रेस विधायक प्रदीप बत्र ने सरकार से बगावत कर दी थी। इसके बाद मेयर यशपाल राणा का भी कद बढ़ गया था। इस दौरान शासन ने विधायक प्रदीप बत्र का मलकपुर चुंगी के समीप निर्माणाधीन कॉम्पलेक्स सील कर दिया था। इतना ही नहीं विधायक समर्थकों के िऽलाफ कई कार्रवाई भी की गई। प्रदेश में सरकार बदल गई। प्रदीप बत्र अब भाजपा से विधायक है। उन्होंने बीटीगंज का मामला प्रमुऽता से शासन के समक्ष उठाया। नतीजा गुरुवार को इस कॉम्पलेक्स को सील कर दिया गया। इस कार्रवाई से जहां कॉम्पलेक्स में कई दुकानें 50 से लेकर 55 लाऽ रुपये कीमत पर बेची गई हैं। कुछ 40 लाऽ में बेची गई है। 25 दुकानें तैयार हो चुकी हैं। 12 दुकानों में तो कारोबार भी चल रहा है। गुरुवार की कार्रवाई के बाद से दुकानदारों के चेहरे की हवाइयां उड़ गई है। हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण की कार्रवाई के दौरान कई दुकानदार तो यह कहते नजर आये कि महापौर और विधायक की जंग में उनका नुकसान हो गया है।
--हाक न्यूजलाईन


Tags:    
Share it
Top