Home > राज्य > उत्तराखण्ड > रोशनाबाद में हो रहे अवैध अतिक्रमण को प्रशासन ने जेसीबी लगाकर हटाया, भारी पुलिस बल रहा मौजूद

रोशनाबाद में हो रहे अवैध अतिक्रमण को प्रशासन ने जेसीबी लगाकर हटाया, भारी पुलिस बल रहा मौजूद

 Agencies |  2017-04-20 05:00:26.0  0  Comments

रोशनाबाद में हो रहे अवैध अतिक्रमण को प्रशासन ने जेसीबी लगाकर हटाया, भारी पुलिस बल रहा मौजूद

बहादराबादः जिला मुख्यालय से सटे गांव रोशनाबाद में काफी समय से हो रहे अवैध अतिक्रमण को आज प्रशासन ने अपनी जेसीबी लगाकर हटा दिया। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए प्रशासन ने तीन थानों की भारी पुलिस बल और पीएससी को तैनात कर गांव पंचायत की खसरा नंबर 554 पर बने लगभग 8 पक्के मकानों को जमीनदोज कर दिया।
बताते चले कि रोशनाबाद के खसरा नंबर 540 पर एक तालाब और कुछ खाली भूमि पड़ी हुई है जिस पर कुछ असरदार लोगों ने अवैध कब्जा कर पक्के मकान तक बना लिए थे जिला मुख्यालय से गांव की ओर जाने वाले मार्ग के दोनों और भी लोगों ने अपना व्यापार आदि चलाने के लिए खोलकर झोपड़िया, फड़ आदि लगा लिए थे। यह कार्य पिछले काफी समय से चल रहा था लेकिन प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद से ही भाजपा हिंदू जागरण मंच और ग्राम प्रधान सड़क के दोनों ओर खोखो में बिकने वाले मांस आदि को बंद कराने और अवैध अतिक्रमण को हटाने के लिए कार्रवाई की थी जिसमें कार्यकर्ताओं और दुकानदारों के बीच तीखी झड़प हो गई थी। जिस पर दोनों पक्षों की ओर से सिडकुल थाने में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाई की गई थी। वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं ने सिडकुल थाने के बाहर धरना प्रदर्शन कर सिडकुल थानाध्यक्ष के स्थानान्तरण की मांग भी की थी। प्रशासन ने जांच में पाया कि यहां पर अतिक्रमण हुआ है। कल ऐसे दुकानदारों जिनकी दुकानें भाजपा कार्यकर्ताओं ने उजाड़ दी थी वह जिला अधिकारी से मिले और मांग की थी कि उनकी दुकानें हटाने के साथ-साथ उनके पक्के मकान भी हटाए जाने चाहिए जिन्होंने गांव की खाली भूमि और तालाब की जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है। प्रशासन ने कल ही अवैध अतिक्रमण करने वालों को चेतावनी देते हुए उन्हें अपना अतिक्रमण हटाने को कहा था लेकिन अतिक्रमणकारियों ने इसे कोई धमकी समझा परंतु आज सुबह ही प्रशासन की टीम रोशनाबाद में हो रहे थे अतिक्रमण हटाने के लिए अपने दलबल के साथ गांव में आई तो अतिक्रमणकारियों में हल्ला मच गया और वह अपने घरों का सामान बाहर निकालने लगे। इस बीच पर शासन की जेसीबी गरजने लगी और पक्के मकान देखते ही देखते जमीनदोज हो गए। लोगों में भारी गुस्सा तो था लेकिन तीन थानों की पुलिस और मौके पर मौजूद पीएसी के जवानों को देखते हुए किसी प्रकार का कोई विरोध नहीं हुआ। प्रशासन एक टीम ने 8 अवैध मकानों को जेसीबी सहायता से तोड़ दिया। इस अवसर पर सीओ सदर जेपी जुयाल, एसडीएम मनीष सिंह, सिडकुल थानाध्यक्ष कमल मोहन भंडारी, रानीपुर कोतवाल प्रदीप बिष्ट, जवालापुर थानाध्यक्ष सहित पीएससी तैनात थी। --हाक न्यूजलाईन

Tags:    
Share it
Top