Home > राज्य > उत्तराखण्ड > मुख्यमंत्री ने किया धार्मिक संपत्तियों को कर मुक्त करने का ऐलान

मुख्यमंत्री ने किया धार्मिक संपत्तियों को कर मुक्त करने का ऐलान

 Agencies |  2017-04-18 06:26:53.0  0  Comments

मुख्यमंत्री ने किया धार्मिक संपत्तियों को कर मुक्त करने का ऐलान

हरिद्वारः मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने धार्मिक संपत्तियों को करमुक्त करने की घोषणा की है। निरंजनी अखाड़़े में अखाड़ा परिषद की और से आयोजित अभिनंदन सामरोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन आश्रमों व धार्मिक स्थलों में व्यवसायिक गतिविधियां नहीं होती हैं। उन आश्रमों एवं धार्मिक स्थलों को कर मुक्त किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि संतुलित एवं पारदर्शी विकास के साथ ही दूरस्थ एवं पिछड़े क्षेत्रों का विकास राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार हठयोग साधना करेगी। सम्पूर्ण उत्तराखण्ड को भ्रष्टाचार मुक्त करना राज्य सरकार का प्रमुख उद्देश्य है। 2021 में हरिद्वार में सुन्दर, भव्य एवं सुविधायुक्त कुम्भ का आयोजन किया जायेगा। कुम्भ की तैयारियों को लेकर साधु समाज एवं अखाड़ा परिशद के मार्गदर्शन से नई योजनाएं बनाई जायेंगी। प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के तहत हरिद्वार की निर्मलता एवं स्वच्छता के लिए साधु समाज के योगदान के लिए शहरी विकास मंत्री को संतों से मिलकर समाधान करने को कहा। स्वच्छता मिशन को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए सबका योगदान आवश्यक है। हरिद्वार सांसद डॉ.रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा कि केन्द्र सरकार की नमामि गंगे व चारधाम योजना से उत्तराखण्ड में पर्यटन को बढ़ावा मिल रहा है। तीर्थ यात्रि एवं पर्यटक देवभूमि उत्तराखण्ड एवं अध्यात्म की राजधानी हरिद्वार में पूर्ण सुरक्षा के साथ यात्रा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्टेंड अप एवं स्टार्ट अप योजनाओं से देश ने विश्व में महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त किया है।
शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि राज्य सरकार धर्म सत्ता के आशीर्वाद से निरन्तर आगे बढ़ रही है। प्रदेश के सम्पूर्ण विकास एवं भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्प है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि अखाड़ों ने हमेशा सनातन धर्म की रक्षा की है। देश में जो परिवर्तन आया है। उसे कायम रखना सरकार व भाजपा की जिम्मेदारी है। राममंदिर बनने से का समय भी अब आ गया है। चाहे कानून से बने या आम सहमति से मंदिर अवश्य बनेगा। अब समय आ गया है कि भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित किया जाए। इस अवसर पर महन्त प्रेम गिरी, महन्त रघुमुनी, महन्त रविन्द्र पुरी, महन्त प्रेम गिरी, महन्त रघुवीर दास, महन्त सुखदेव मुनी, महन्त मोहनदास, महन्त कमलदास, मेयर मनोज गर्ग, विधायक सुरेश राठौर, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ.जयपाल सिंह, जिलाधिकारी एस.ए. मुरूगेशन, एस.एस.पी. कृष्ण कुमार वी.के सहित अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहे। --हाक न्यूजलाईन

Tags:    
Share it
Top