Home > राज्य > उत्तराखण्ड > बारिश से कीचड़-कीचड़ हुए मार्ग, नहीं डिगे कांवड़ियों के पग, चलता रहा काफिला

बारिश से कीचड़-कीचड़ हुए मार्ग, नहीं डिगे कांवड़ियों के पग, चलता रहा काफिला

 Agencies |  2017-07-13 07:30:56.0  0  Comments

बारिश से कीचड़-कीचड़ हुए मार्ग, नहीं डिगे कांवड़ियों के पग, चलता रहा काफिला

हरिद्वारः बुधवार सुबह से लगातार हो रही बारिश ने कांवड पटरी मार्ग से लेकर हाई-वे पर प्रशासन की व्यवस्थाओं की पोल खोल कर रख दी। कीचड़ और जलभराव से कांवड़ियों को भारी परेशानी का सामना करना पडा। लेकिन कांवडियों का उत्साह इसके बाद भी कम नहीं हुआ। कांवड़िया बोल बम के नारे लगाते हुए तमाम मुश्किलों के बाद भी आगे बढते रहे। वहीं कांवडियों और पुलिस के बीच हाई-वे पर जाने को लेकर कई जगह विवाद हुआ।
कांवड़ यात्रा हुए तीन दिन बीच चुके हैं। अभी तक लाखों भक्त गंगाजल लेकर अपने-अपने स्थानों की ओर कूच कर चुके हैं। बुधवार को सुबह से भी भारी बारिश के कारण कांवडियों को भारी परेशानी का सामना करना पडा। चूंकि हाईवे का काम अभी भी पूरा नहीं हुआ है ओर जगह-जगह मिटृटी बारिश के बाद कीचड में तब्दील हो गई। वहीं नहर पटरी मार्ग पर भी कमोबेश यही हाल है। इसके कारण कांवड़ियों को अपना सफर तय करने में परेशानी का सामना करना पडा।
सबसे ज्यादा दिक्कत सिंहद्वार और ज्वालापुर क्षेत्र में देखने को मिली। यहां संपर्क मार्ग भी खस्ताहाल होने के कारण कांवड़ियों के साथ-साथ स्थानीय लोग भी परेशनियों से दो चार होते नजर आए।
हालांकि प्रशासन ने जगह-जगह चिकित्सा शिविर लगाए हैं लेकिन इनमें डाॅक्टरों की कमी होने के कारण कांवडियों को दिक्कतें हुई। वहीं सामाजिक संगठनों ने कांवड़ियों के लिए लंगर चलाया और कांवड़ियों के लिए भोजन और पानी की व्यवस्था की।
वहीं दूसरी ओर ऊंची कांवड़ को लेकर कई स्थानों पर पुलिस की टीमों के साथ शिव भक्तों की कहासुनी हुई। कांवड़िए हाईवे से जाने की मांग कर रहे थे।
--हाक न्यूजलाईन

Tags:    
Share it
Top