Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > बाला जी की मूर्ति खंडित होने पर हिन्दू संगठनों का हंगामा

बाला जी की मूर्ति खंडित होने पर हिन्दू संगठनों का हंगामा

 Agencies |  2017-06-10 07:43:40.0  0  Comments

बाला जी की मूर्ति खंडित होने पर हिन्दू संगठनों का हंगामा

मेरठः भावनपुर थाना क्षेत्र में गढ़ रोड स्थित गोकुलपुर गांव में गुरूवार की रात शरारती तत्वों ने प्राचीन शिव में बाला जी की मूर्ती को खंडित कर दिया। शुक्रवार की सुबह पूजा करने पहुंची महिला ने मूर्ती खंडित देख मन्दिर के पुजारी को जगाकर घटना की जानकारी दी तो गांव में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे हिन्दू संगठनो के कार्यकर्ताओं ने सम्प्रदाय विशेष के लोगों पर मूर्ती खंडित करने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया और मन्दिर में धरने पर बैठ गए। मौके पर अधिकारियों ने खंडित मूर्ती बदलवाते हुए 24 घंटे के भीतर मूर्ती खंडित करने वालों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है।
गोकुलपुर में प्राचीन शिव मन्दिर में पिछले 15 वर्षाे से उरैया निवासी राजाराम पुजारी हैं। शुक्रवार की सुबह मन्दिर में पूजा करने पहुंची गांव की निवासी सुरेश नाम की महिला ने मन्दिर के भीतर बाला जी महाराज की मूर्ती टूटी देखी तो राजाराम को जगा कर मामले की जानकारी दी। घटना की सूचना आग की तरह गांव में फैल गई, जिसके बाद सैकड़ो ग्रामीण और हिन्दू संगठनों से जुड़े दर्जनों लोगों ने मन्दिर में धरना-प्रदर्शन करते हुए संप्रदाय विशेष पर मूर्ती तोडऩे का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी मिलने पर एसपी देहात राजेश कुमार, एसडीएम सदर, सीओ गजेन्द्र पाल सिंह सहित कई थानों की फोर्स और पीएसी मौके पर पहुंची। अधिकारियों ने हंगामा कर रहे लोगों को समझाने का प्रयास किया तो वह आरोपियों की गिरफ्तारी और मूर्ती बदलवाने की मांग को लेकर मन्दिर परिसर में धरने पर बैठ गए। बजरंग दल के नेता अर्जुन राठी, गौरव गर्ग और विहिप नेता अमित भारद्वाज व पंडित रविदत्त शर्मा आदि ने 24 घंटे की भीतर मूर्ती खंडित करने वालों की गिरफ्तारी और मूर्ति को तत्काल बदले जाने की मांग की। काफी देर चले हंगामे के बाद अधिकारियों ने मूर्ती बदलवाते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही का आश्वासन दिया, जिसके बाद मामला शांत हुआ। तनाव को देखते हुए गांव में पीएससी तैनात की गई है। --हाक न्यूजलाईन

Tags:    
Share it
Top