Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सरकार को किसानों को विश्वास में लेकर कोई फैसला करना चाहिए था: मायावती

सरकार को किसानों को विश्वास में लेकर कोई फैसला करना चाहिए था: मायावती

सरकार को किसानों को विश्वास में लेकर कोई फैसला करना चाहिए था: मायावती

लखनऊ: संसद के मानसून सत्र के दौरान पारित कृषि संबंधी विधेयकों को लेकर बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि केन्द्र सरकार को किसानो को विश्वास में लेकर कोई फैसला करना चाहिए था। बसपा नेत्री मायावती ने गुरुवार को ट्वीट किया कि ''जैसा कि विदित है कि बीएसपी ने यूपी में अपनी सरकार के दौरान कृषि से जुड़े अनेकों मामलों में किसानों की कई पंचायतें बुलाकर उनसे समुचित विचार-विमर्श करने के बाद ही उनके हितों में फैसले लिए थे। यदि केन्द्र सरकार भी किसानों को विश्वास में लेकर ही निर्णय लेती तो यह बेहतर होता।'' विदित हो कि केन्द्र ने मानसून सत्र के दौरान दो बिल संसद से पारित हुए जिनमे से एक कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, 2020, और दूसरा कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 है। विपक्ष ने इन विधेयकों के विरोध में राज्यसभा में जमकर हंगामा किया था जिसके बाद आठ सांसदों को सदन से निलंबित कर दिया गया था।

Updated : 24 Sep 2020 10:59 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top