Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > राम मंदिर न्यास ने विदेशों से दान स्वीकारने केंद्र से मांगी इजाजत

राम मंदिर न्यास ने विदेशों से दान स्वीकारने केंद्र से मांगी इजाजत

राम मंदिर न्यास ने विदेशों से दान स्वीकारने केंद्र से मांगी इजाजत

अयोध्या: अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र में राम मंदिर के निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। राम मंदिर न्यास इसके लिए विदेशी दान स्वीकार करने के लिए केंद्र सरकार से इजाजत मांगी है। न्यास के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। न्यास के कार्यालय प्रभारी प्रकाश गुप्ता ने बताया कि विदेशों से भक्तों ने राम मंदिर के लिए न्यास को दान भेजना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि मंगलवार को, कार्यालय को भारतीय मूल के एक अमेरिकी नागरिक से 1,500 डॉलर का चेक मिला। न्यास जल्द ही एक एनआरआई खाता खोलेगा जिसमें विदेशी मुद्राओं में दान जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए गत पांच अगस्त को हुए भूमि पूजन समारोह के बाद से लगातार दान मिल रहे हैं और न्यास का कोष बढ़कर 75 करोड़ रुपये हो गया है। गुप्ता ने कहा, 'न्यास को देश में श्रद्धालुओं की ओर से नियमित तौर पर दान मिल रहे हैं। अब विदेशों में भक्त चेक के माध्यम से दान कर रहे हैं, जिनमें ज्यादातर विदेशी मुद्राओं में दान कर रहे हैं।' उन्होंने कहा, 'न्यास ने इन विदेशी दान को प्राप्त करने के लिए भारत सरकार से अनुमति के लिए आवेदन किया है। अनुमति जल्द मिलने की संभावना है, जिसके बाद ट्रस्ट पंजाब नेशनल बैंक में एक एनआरआई खाता खोलेगा।' गुप्ता ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग 11 रुपये से लेकर 11,000 रुपये तक के नकद दान कर रहे हैं।


Updated : 23 Sep 2020 11:39 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top