Home > खेल > अश्विन का 'छक्का' ,भारत की सीरीज में बराबरी

अश्विन का 'छक्का' ,भारत की सीरीज में बराबरी

 Agencies |  2017-03-07 10:34:29.0  0  Comments

अश्विन का

बेंगलुरु। ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की कातिलाना गेंदबाजी के दम पर भारत ने उतार-चढ़ाव से भरे रोमांचक दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे ही दिन सोमवार को ऑस्ट्रेलियाई टीम की दूसरी पारी सस्ते में निपटाते हुए 75 रन से मैच अपने नाम कर लिया और सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। अश्विन ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 41 रन देकर छह विकेट लिए।

भारत ने आस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 188 रन का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में मेहमान टीम 35.4 ओवर में 112 रन पर ही ढेर हो गई। अश्विन ने कमाल की गेंदबाजी कर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को सस्ते में निपटाया और 12.4 ओवर में 41 रन पर सर्वाधिक छह विकेट निकालकर मेहमान टीम को चायकाल के कुछ देर बाद ही धराशायी कर दिया। भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने टेस्ट इतिहास की यह 25वीं जीत है।
अश्विन के अलावा तेज गेंदबाज उमेश यादव ने 30 रन पर दो विकेट, ईशांत शर्मा ने 28 रन पर एक विकेट और रवींद्र जड़ेजा ने तीन रन पर एक विकेट निकाला। यह 25वां मौका है जब अश्विन ने पारी में पांच विकेट की उपलब्धि अपने नाम की है। अश्विन ने पहली पारी में दो विकेट झटके थे और मैच में कुल आठ विकेट चटकाकर सबसे उपयोगी खिलाड़ी साबित हुए।

भारत ने चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्या रहाणे के बेशकीमती अर्धशतकों से दूसरी पारी में 97.1 ओवर में 274 रन बनाए जिसकी बदौलत भारत ऑस्ट्रेलिया के सामने 188 रन का लक्ष्य रख सका। भारत की पारी लंच तक समाप्त हुई थी, लेकिन इसके बाद लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई पारी डेढ़ सत्र के अंदर 35.4 ओवर में 112 रन पर सिमट गई। ऑस्ट्रेलिया ने चायकाल के बाद मात्र 11 रन के अंतराल मे अपने शेष चार विकेट गंवा दिए। टीम इंडिया ने इसके साथ ही चार मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी कर आलोचकों के मुंह भी बंद कर दिए।
अश्विन ने अपने छह विकेट के कारनामे के साथ पूर्व दिग्गज लेफ्ट आर्म स्पिनर बिशनसिंह बेदी को पीछे छोड़ दिया और भारतीय टेस्ट इतिहास में पांचवें सबसे सफल गेंदबाज बन गए। बेदी के 266 विकेट थे, जबकि अश्विन के 269 विकेट हो गए हैं।
मैच का चौथा दिन हर लिहाज से सनसनीखेज रहा जिसमें डीआरएस को लेकर खासा विवाद हुआ और ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ डीआरएस लेने के चक्कर में अपने ड्रैसिंग रूम की ओर इशारा करने को लेकर विवाद में आ गए। स्मिथ तेज गेंदबाज उमेश यादव की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए थे, लेकिन वह अपने ड्रैसिंग रूम की ओर देखने लगे जिसके बाद अंपायर ने आकर उन्हें रोका और पैवेलियन की ओर जाने का इशारा कर दिया। यह सरासर नियमों के खिलाफ था।
स्मिथ ने 28 रन बनाए और वह चौथे बल्लेबाज के रूप में 74 के स्कोर पर आउट हुए। स्मिथ का आउट होना था कि ऑस्ट्रेलियाई पारी का पतन होने में ज्यादा समय नहीं लगा। आस्ट्रेलियाई टीम दो विकेट पर 67 के स्कोर पर 112 रन पर ढेर हो गई। ऑस्ट्रेलिया ने अपने आखिरी आठ विकेट 49 रन जोड़कर गंवाए। (वार्ता)

Tags:    
Share it
Top