Home > मुख्य समाचार > मोदी ने किये लिंगराज मंदिर के दर्शन

मोदी ने किये लिंगराज मंदिर के दर्शन

 Agencies |  2017-04-16 08:06:41.0  0  Comments

मोदी ने किये लिंगराज मंदिर के दर्शन

भुवनेश्वर : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सुबह यहां के प्रसिद्ध लिंगराज मंदिर जाकर भगवान शिव की पूजा अर्चना की। श्री मोदी करीब सुबह साढ़े आठ बजे मंदिर परिसर पहुंचे जहां मुख्य पुजारी ने उनका स्वागत किया। श्री मोदी ने सबसे पहले बिन्दुसागर सरोवर में जाकर जल से आचमन किया और फिर गर्भगृह में जाकर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच विशाल शिवलिंग स्वरूप भगवान लिंगराज का अभिषेक किया। पुजारियों ने आशीर्वाद स्वरूप उन्हें उत्तरीय ओढ़ाया और प्रसाद भेंट किया। मंदिर के सूत्रों के अनुसार पं. जवाहरलाल नेहरू के बाद श्री मोदी दूसरे प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने इस मंदिर के दर्शन किये हैं। मंदिर प्रशासन की ओर से श्री मोदी को ओडिशा का खास कोराखई भेंट किया गया। यह धान के लावा या लाई से तैयार किया जाता है। इसमें काजू, पिस्ता और नारियल डालकर इसे तैयार कराया गया है। प्रधानमंत्री के साथ केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेन्द्र प्रधान भी थे। श्री मोदी ने मुख्य मंदिर में पूजा अर्चना के पश्चात पार्वती मंदिर के दर्शन किये। इसके बाद परिसर में मौजूद अन्य मंदिरों में सभी ज्योतिर्लिंगों का दर्शन भी किये। इस मौके पर मंदिर परिसर के आसपास सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये थे लेकिन मंदिर परिसर एवं आसपास भारी भीड़ जमा थी। श्री मोदी ने लोगों का अभिवादन किया और कई बार सुरक्षा घेरा तोड़कर जनता से मिले। पुजारियों ने भी उनके साथ सेल्फी खींची। श्री मोदी ने मंदिर की व्यवस्था, पुरातत्व, इतिहास एवं पांरपरिक विश्वास के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। लिंगराज को सभी शिवलिंगों का राजा माना जाता है। मंदिर का निर्माण सोमवंशी राजा जजाति केशरी ने 11वीं शताब्दी में कराया था। मंदिर के प्रांगण में बने बिंदुसागर सरोवर के बारे में मान्यता है कि इसमें देश के सभी प्रमुख झरनों और नदियों का जल संग्रहीत है। --वार्ता

Tags:    
Share it
Top