Home > मुख्य समाचार > राम मंदिर पर अदालत के फैसले का कई मंत्रियों ने किया स्वागत

राम मंदिर पर अदालत के फैसले का कई मंत्रियों ने किया स्वागत

 Agencies |  2017-03-22 05:29:46.0  0  Comments

राम मंदिर पर अदालत के फैसले का कई मंत्रियों ने किया स्वागत

नयी दिल्ली : उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे को अदालत से बाहर सुलझाने के उच्चतम न्यायालय के फैसले का केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा और केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने स्वागत किया है। श्री शर्मा ने इस फैसले पर त्वरित प्रतिक्रिया में पत्रकारों से कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के इस फैसले का स्वागत करते हैं और उम्मीद करते हैं कि बातचीत से राम मंदिर बनाये जाने का मार्ग प्रशस्त होगा। उन्होंने कहा कि सभी संबद्ध पक्षों को साथ लेकर बातचीत की जायेगी तथा मसले का सर्वस्वीकार्य हल ढूँढ़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश दोनों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार होने से इस मामले में पूर्व में आने वाली बाधाएँ अब नहीं रहेंगी और इस तरह के विकास कार्यों में भी गति आयेगी। सरकार और पार्टी की सोच है कि अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिये। श्री शर्मा ने कहा कि राम मंदिर कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है बल्कि वह लाखों करोड़ाें लोगों की आस्था का मामला है और उच्चतम न्यायालय ने जो रास्ता सुझाया है उस पर आगे चलकर इस मसले को सुलझा लिया जायेगा। उन्होंने यह भी कहा कि उनके मंत्रालय ने रामायण सर्किट के लिए 154 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं तथा न्यायालय के इस फैसले से इस कार्य में और तेजी आयेगी। सुश्री भारती ने भी कहा कि यह मामला बाहर सुलझाया जा सकता है। -वार्ता

Tags:    
Share it
Top