Home > राजनीति > हाईकोर्ट ने आजम के खिलाफ जारी किया जमानती वारंट

हाईकोर्ट ने आजम के खिलाफ जारी किया जमानती वारंट

 Agencies |  2017-03-07 17:50:22.0  0  Comments

हाईकोर्ट ने आजम के खिलाफ जारी किया जमानती वारंट

नई दिल्ली: लखनऊ की हाईकोर्ट बेंच द्वारा जलनिगम के एक मामले में बुधवार को कैबिनेट मंत्री व जलनिगम के चेयरमैन आजम खान के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया था। इसके खिलाफ आजम ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। आजम ने याचिका में कहा है कि उनके खिलाफ जारी वारंट पर रोक लगाई जाए।
सुप्रीम कोर्ट ने यूपी के मंत्री की याचिका पर आज सुनवाई के लिए राजी हो गया है। आपको बता दें कि जस्टिस सुधीर अग्रवाल की अध्यक्षता वाली खंडपीठ के समक्ष बुधवार को निवर्तमान एमडी पीके आसुदानी (28 फरवरी 2017 को रिटायर हो गए) और चीफ इंजीनियर आरपी सिन्हा तो उपस्थित हुए, लेकिन चेयरमैन आजम खां नहीं आए।
उनकी ओर से हाजिरी माफी की अर्जी दी गई, लेकिन इसे हाईकोर्ट ने यह कहते हुए इसे खारिज कर दिया कि इसमें गैर-हाजिरी की कोई वजह नहीं दी गई है। साथ ही अगली तारीख छह मार्च तय करते हुए इस दिन उनकी उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए जमानती वारंट जारी किया।
गौरतलब है कि यूपी जल निगम की ही वर्ष 2013 की याचिका का है, जिसमें निगम ने उप्र राज्य लोकसेवा अभिकरण के एक निर्णय को चुनौती दी थी। जल निगम ने अपने तत्कालीन सहायक अभियंता धीरेंद्र कुमार सिंह को वित्तीय अनियमितताओं और भ्रष्टाचार के आरोपों में जांच करने के बाद सेंसर एंट्री दी थी।
सिंह ने इसके खिलाफ अभिकरण में शिकायत की। उनका कहना था उन्हें अपनी बात रखने का पर्याप्त अवसर नहीं दिया गया। साथ ही जो आरोप उन पर लगाए गए, उसकी चार्जशीट पर जांच करने वाले अधिकारी के दस्तख्त थे।
इसके विपरीत जो मूल चार्जशीट है, उसमें चार्जशीट जारी करने वाले अधिकारी ने हस्ताक्षर किए हैं। उन्होंने दस्तावेजों की जालसाजी का आरोप लगाया। अभिकरण ने उनकी शिकायत स्वीकार कर ली।

Share it
Top