Home > राष्ट्रीय > ईवीएम से नहीं बैलट पेपर से ही चुनाव हों: विपक्ष

ईवीएम से नहीं बैलट पेपर से ही चुनाव हों: विपक्ष

 Agencies |  2017-04-05 07:56:31.0  0  Comments

ईवीएम से नहीं बैलट पेपर से ही चुनाव हों: विपक्ष

नयी दिल्ली : विपक्षी दलों ने इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) से चुनाव में गड़बड़ी तथा अनियमितता की आशंका जताते हुए आज राज्यसभा में कहा कि मध्य प्रदेश में हाल ही में इन मशीनों की जांच के दौरान हुए खुलासे के मद्देनजर भविष्य में सभी चुनाव बैलट पेपर से कराये जाने चाहिए। उप सभापति पी जे कुरियन ने कहा कि विपक्ष को यह विषय अासन के समक्ष उठाने के बजाय चुनाव आयोग के समक्ष उठाना चाहिए। कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के उत्तेजित सदस्यों ने अासन के निकट नारेबाजी की जिससे कुछ देर के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित भी करनी पडी। उधर सरकार ने कहा कि सदन में इस मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हो चुकी है और ईवीएम में गड़बड़ी के बारे में कोई तथ्य या तर्क सामने नहीं आया है। विपक्ष चुनाव आयोग तथा जनता के जनादेश पर सवाल उठा रहा है। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह, प्रमोद तिवारी और सपा के प्रो रामगोपाल यादव तथा नरेश अग्रवाल ने नोटिस देकर इस मुद्दे पर नियम 267 के तहत चर्चा कराने की मांग की थी। सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि निष्पक्ष चुनाव हमारे लोकतंत्र की नींव है और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए कई बार बदलाव तथा संशोधन भी किये गये हैं। उन्होंने कहा कि पिछले तीन-चार वर्षों से ईवीएम से कराये जा रहे चुनाव शक के घेरे में हैं। विपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में ईवीएम से बड़ी सफाई से छेड़छाड़ की गयी है। उन्होंने कहा कि वह सदन के माध्यम से अपील करते हैं कि देश में सभी उप चुनाव, गुजरात और हिमाचल प्रदेश में तथा भविष्य में होने वाले चुनाव ईवीएम के बजाय बैलट पेपर से कराये जाने चाहिए।--वार्ता

Tags:    
Share it
Top