Home > शहर > सहारनपुर > छह दिसम्बर को नहीं होंगे धार्मिक आयोजन, सभा व रैली: डीएम

छह दिसम्बर को नहीं होंगे धार्मिक आयोजन, सभा व रैली: डीएम

छह दिसम्बर को नहीं होंगे धार्मिक आयोजन, सभा व रैली: डीएम

-सांप्रदायिक सद्भाव बिगाडऩे वालों पर रखे पैनी नजर

सहारनपुर: अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाये जाने के मामले को लेकर छह दिसम्बर को काला दिवस व शौर्य दिवस मनाये जाने के लिए हिन्दू व मुस्लिम संगठनों द्वारा आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की अनुमति न दिये जाने के निर्देश देते हुए जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडे ने आपसी सद्भाव व शांति बनाए रखने के लिए अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वह भ्रमण कर स्थिति पर नजर रखें, इसके लिए जोनल व सैक्टर मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए गए है।

छह दिसम्बर के आयोजन को लेकर आज विकास भवन के सभागार में जिलाधिकारी आलोक कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें जिलाधिकारी श्री पाण्डेय ने निर्देश दिये कि एसएसपी, पुलिस अधीक्षक बैठक कर लें जिसमें स्वास्थ्य, बिजली, राजस्व, परिवहन, आबकारी, होमगार्ड आदि विभागों के अधिकारी भी सम्मिलित रहें। उन्होंने बताया कि इस सम्बन्ध में उनको संवेदित कर दिया जाये और उनकी 5 से 7 दिम्बर तक जनपद व क्षेत्र में उनकी उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। अस्पताल में आपातकाल के लिए डाक्टर जीवन रक्षक दवाओं के साथ उपलब्ध रहें। 6 दिसम्बर को बिजली की निर्बाध आपूर्ति रहे। उन्होंने यह भी कहा कि जनपद में धारा 144 द.प्र.सं. लागू कराने के लिए विचार कर लें एवं 6 दिसम्बर को कोई भी धार्मिक आयोजन, उत्सव रैली या सभा किये जाने की अनुमति न दी जाये, जोनल व सेक्टर स्क्रीम लागू कर भ्रमणशील रहे। उन्होंने स्थानीय अभिसूचना इकाई एवं थानाध्यक्षों को भी संवेदनशील सूचनाएं एकत्रित करने के लिए आदेशित किया। जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि साम्प्रदायिक सदभाव बिगाडऩे वालों को तत्काल चिन्हित कर सतर्क दृष्टि रखी जाये और आवश्यकता पडऩे पर उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही से भी गुरेज न किया जाये।

जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि शांति समितियों की बैठकें की जाएं, सिविल डिफेन्स संगठन एस-1० के सदस्यों को आमंत्रित किया जाये, इसी प्रकार नागरिक सुरक्षा समितियों व अन्य समाजसेवी संगठनों का सहयोग लिया जाये। उन्होंने कहा कि संवेदनशील क्षेत्रों में सम्बन्धित मजिस्टे्रट भ्रमण करें, साथ ही यह भी ध्यान रखें कि धार्मिक स्थलों के पास किसी भी प्रकार का विवादित पोस्टर आदि न लगा हो, पटाखे की दुकान 6 दिसम्बर को बंद रखी जाये, शस्त्र व शराब की दुकानों पर सर्तक दृष्टि रखी जाये, अग्नि शमन वाहनों को ठीक रखा जाये, फायर हाइडे्रन्ट कहां-कहां कार्य कर रहे हैं, इसकी जानकारी कर ली जाये, किसी भी संगठन को जुलूस बनाकर कचहरी, तहसील आदि स्थानों पर आने की अनुमति न दी जाये। इसके अलावा उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि अफवाह फैलाने वालों को चिन्हित करके सख्त कार्यवाही की जाये तथा मीडिया से भी सम्पर्क बनाये रखें। डयूटी के दौरान दंगा निरोधक, उपकरण-बाडी, प्रोटेक्टर, हेलमे, डण्डा आदि से लैस रहे, टियर गैस गन, रबर बुलेट गन भी साथ में रखे। उन्होंने एसएसपी दिनेश कुमार पी से कहा कि पुलिस लाईन में अतिरिक्त रिर्जव बल रखा जाये ताकि आवश्यकता पडऩे पर उपयोग में लिया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि 6 दिसम्बर को डा.भीमराव अम्बेडकर का परिनिर्वाण दिवस होने के कारण प्रभात फेरी, रैली, गोष्ठी, श्रद्धाजंलि तथा माल्यार्पण आदि का कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें श्रद्धाजंलि अर्पित की जाती है, इन आयोजनों पर भी उचित पुलिस बल का प्रबन्ध कराया जाये। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी., सी.डी.ओ प्रणय सिंह, एडीएमई, एडीएमएफ, सिटी मजिस्टे्रट सहित विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

Tags:    
Share it
Top