Home > शहर > हरिद्वार > मिश्रा गार्डन में हुई चोरी का पर्दाफाश, सुनार सहित तीन गिरफ्तार

मिश्रा गार्डन में हुई चोरी का पर्दाफाश, सुनार सहित तीन गिरफ्तार

मिश्रा गार्डन में हुई चोरी का पर्दाफाश, सुनार सहित तीन गिरफ्तार

-आरोपियों से लाखों के सोने के जेवरात सहित हजारों की नगदी बरामद

हरिद्वारः कनखल पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मिश्रा गार्डन में हुई चोरी के दो अन्तर्राज्यीय चोर व मेरठ के एक सुनार को गिरफ्रतार किया है। पुलिस ने मौके से चोरी के सोने-चांदी के जेवरात सहित हजारों की नगदी बरामद की है।

इस बात की जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदेई कृष्णराज एस ने आज कनखल थाना परिसर में पत्रकार वार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि 30 अक्टूबर 19 को आशीष आहुजा पुत्र स्व- स्वराज आहुजा निवासी संतपुरा सोसाइटी मिश्रा गार्डन कनखल ने कनखल थाने में शिकायत दर्ज करायी थी कि 29 अक्टूबर की रात को अज्ञात लोगों ने उसके घर का ताला तोड कर सोने-चांद के जेवरात व हजारों की नगदी चोरी कर ले गये है। पुलिस ने पीडि़त की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी थी। इसी दौरान सुबह कनखल पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि 29 अक्टूबर 19 की रात को मिश्रा गार्डन में हुई चोरी के दो आरोपी बहादराबाद नहर पटरी पर स्थित पीर बाबा की मजार पर आने वाले है। जिन्हाेंने चोरी का माल बेचने के लिए मेरठ के एक सुनार को बुलाया है। सूचना पुलिस ने मौके पर छापा मारकर मेरठ के सुनार सहित तीन लोगों को पुलिस ने दबोच लिया। जिनके पास से पुलिस ने लाखों के सोने-चांदी के जेवरात और 40 हजार की नगदी बरामद की है। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा पूछताछ पर दोनों आरोपियों ने अपना नाम शान मौहम्मद उर्फ शानू पुत्र सलीम निवासी गली नम्बर-01 मजीदपुरा निकट ईदगाह हापुड़ यूपी, मौ- इश्हाक पुत्र मौ- इश्तिहाक निवासी ईदगाह रोड शिव दयालपुरा चमडा पैठ के सामने हापुड़ हाल निवासी दादूपुर सलेमपुर रानीपुर और सुनार पीयूष पुत्र मनोज कुमार निवासी गली नम्बर-01 शिव शक्ति नगर विजय चौक ब्रह्मपुरी मेरठ बताया है। जब पुलिस ने चोरों की कुण्डली खंगाली गयी तो दोनों अन्तर्राज्यीय चोर गिरोह के सदस्य निकले। जिनके खिलाफ यूपी, तमीलनाडू, आंध्र प्रदेश में चोरी के अभियोग दर्ज है। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियाें ने खुलासा किया कि चोरी का कुछ माल वह मेरठ के ही दुर्गेश वर्मा सुनार को बेच आये है, जो माल बच गया था उसको बेचने के लिए उन्होंने मेरठ से पीयूष को बुलाया था और माल के सम्बंध में बातचीत जारी थी तभी पकडे गये। आरोपियों ने बताया कि चोरी की वारदात को अंजाम देने से पूर्व वह घटना की रैकी करते थे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ सम्बंधित धाराआें में मामला दर्ज करते हुए सुनार दुर्गेश वर्मा के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी गिरफ्रतारी के प्रयास किये जा रहे है। प्रेसवार्ता के दौरान एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ कनखल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


Tags:    
Share it
Top