Home > शहर > हरिद्वार > सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सभी सम्मान करेंः मौलाना आरिफ

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सभी सम्मान करेंः मौलाना आरिफ

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सभी सम्मान करेंः मौलाना आरिफ

हरिद्वारः मदरसा अरबिया दारूल उलुम रशीदिया के प्रबंधक व जमीयत ए उलेमा हिन्द उत्तराखण्ड के अध्यक्ष मौलाना मुहम्मद आरिफ कासमी ने सभी से बाबरी मस्जिद/ राम जन्म भूमि मामले पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने की अपील की है।

प्रेस को जारी बयान में मुहम्मद आरिफ कासमी ने कहा कि भारत की कौमी एकता व आपसी सौहार्द की पूरी दुनिया में मिसाल दी जाती है। देश में आपसी अमन व एकता हमेशा कायम रही है। उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद/रामजन्म भूमि मामले को लेकर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को सभी को खुले दिन से स्वीकार करना चाहिए। सभी को संविधान का पालन करते हुए फैसले का सम्मान करना चाहिए। हिन्दू, मुस्लिम, सिख ईसाई प्रत्येक वर्ग के लोग लंबे समय से देश में एकता व भाईचारे का संदेश देते चले आ रहे हैं। देश की आजादी में सभी धर्म समुदाय के लोगों ने अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि आपसी एकता व भाईचारा ही देश की तरक्की बुनियाद है। सभी देशवासी मिलजुल कर इस बुनियाद को मजबूती प्रदान करें। सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर किसी भी प्रकार की अफवाहों से बचें। मौलाना आरिफ ने यह भी अपील की कि सोशल मीडिया पर हो रहे दुष्प्रचार से हमे बचना चाहिए। ऐसी ताकतों से सचेत रहने की आवश्यकता है। गलत अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। युवा वर्ग ही देश की तरक्की में अपना योगदान देता चला आ रहा है। आपसी एकता व भाईचारा ही देश की ताकत है। कुछ अलगाववादी शक्तियां फैसले को लेकर भ्रम की स्थिति फैलाने में जुटी हुई हैं। उन्होंने पुलिस व प्रशासन से भी अपील की कि ऐसी ताकतों से कड़ाई से निपटा जाना चाहिए जो देश का अमनोचैन व माहौल खराब करने की कोशिश कर रही हैं। हिन्दुस्तान की हिंदू मुस्लिम एकता देश दुनिया में जानी पहचानी जाती है। इंसानियत का पैगाम भारत से ही दुनिया में जाना जाता है। बाबरी मस्जिद/रामजन्म भूमि के मामले में होने वाला फैसला सभी को स्वीकार करना चाहिए।

Tags:    
Share it
Top