Home > शहर > हरिद्वार > ऋषिकुल के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

ऋषिकुल के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

ऋषिकुल के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

हरिद्वारः चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ऋषिकुल उपशाखा के चुनाव को संगठन के पूर्व मंत्री मनोज चंद द्वारा असंवैधानिक बताए जाने तथा आयुर्वेद विभाग के कार्मिकों को संगठन से निकाले जाने के विरोध में कर्मचारियों ने ऋषिकुल आयुर्वेदिक कालेज परिसर में प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन के दौरान ऋषिकुल शाखा अध्यक्ष छतरपाल सिंह चैहान एवं संयुक्त मंत्री अजय कुमार ने कहा कि चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं जिसमें आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक एवं एलोपैथिक विभाग के कर्मचारियों को ंमिलाकर पूर्व प्रांतीय महामंत्री स्वं गोविंद वल्लभ उपाध्याय के प्रयासों से संगठन का विस्तार किया गया था। अब इन सभी सदस्यों को संगठन से निकाले जाने को लेकर संगठन के कुछ पूर्व पदाधिकारियों द्वारा गलत बयानबाजी की जा रही है। इसको लेकर कर्मचारी आक्रोशित हैं। ऐसे पदाधिकारियों की संगठन विरोधी गतिविधियों की शिकायत प्रदेश संगठन से की जाएगी। जयनारायण सिंह व मोहित मनोचा ने कहा कि जिला संगठन द्वारा कुछ कर्मचारियों को संगठन विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के चलते उनकी प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी गयी थी। उन कर्मचारियों को साथ लेकर पूर्व जिला मंत्री मनोज चंद संगठन को तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सरंक्षक नरेंद्र बागड़ी ने कहा कि संगठन को तोड़ने ाला चाहे कोई भी हो उसके खिलाफ सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं को आयुर्वेद विभाग द्वारा अस्तित्व में लाया गया है। यदि कोई कर्मचारी संगठन छोड़कर जाना चाहता है तो वह जा सकता है। संगठन में तीनों पैथी के कार्मिकों के बने रहने की व्यवस्था शासन की गयी है। संगठन किसी एक विभाग की जागीर नहीं है। प्रदर्शन करने वालों में अजय कुमार, नितिन कुमार, दीपक यादव, विनोद कश्यप, ज्योति नेगी, कमल कुमार, सुरेंद्र सिंह, कल्लू सिंह, पप्पू, मनोज पोखरियाल, प्रमोद कश्यप, जयनारायण सिंह, छतरपाल सिंह, नाथीराम, शिवनारायण सिंह आदि शामिल रहे।


Tags:    
Share it
Top