Top
Home > अर्थव्यवस्था एवं व्यापार > करीब पांच साल बाद पटरी पर लौटेगी वैश्विक अर्थव्यवस्था

करीब पांच साल बाद पटरी पर लौटेगी वैश्विक अर्थव्यवस्था

करीब पांच साल बाद पटरी पर लौटेगी वैश्विक अर्थव्यवस्था

नई दिल्ली: कोरोना महामारी की वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था को उबरने में करीब 5 साल तक लग सकता है। यह बात विश्व बैंक के प्रमुख अर्थशास्त्री कारमेन रेनहार्ट ने गुरुवार को कही। रेनहार्ट ने कहा कि मौजूदा संकट के बाद करीब 20 सालों में ऐसा पहली बार होगा कि वैश्विक स्तर पर गरीबी दर में तेजी आएगी। उन्होंने कहा, लॉकडाउन संबंधी सभी प्रतिबंधों के खत्म होने के बाद त्वरित तेजी देखने को मिलेगी। लेकिन, फुल रिकवरी में करीब 5 साल का वक्त लग सकता है। रेनहार्ट ने कहा कि कुछ देशों में अन्य के मुकाबले महामारी की वजह से आई मंदी का दौर लंबा होगा।अमीर देशों में रहने वाले गरीब वर्ग को सबसे ज्यादा नुकसान होगा क्योंकि आर्थिक असामनता बढ़ेगी।इसी प्रकार अमीर देशों की तुलना में गरीब देशों की स्थित भी चुनौतीपूर्ण होगी। सितंबर के शुरुआत में ही एक रिपोर्ट में कहा गया था कि अभी तक महामारी के बारे में कुछ वर्गीकरण नहीं किया जा सकता।कुछ अर्थव्यवस्थाओं में तीसरी तिमाही में गतिविधियां सुधरी हैं। इसका पता खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई), गूगल के मोबिलिटी आंकड़ों तथा मासिक आर्थिक आंकड़ों से चलता है।इस रिपोर्ट में भारत को लेकर कहा गया था कि यहां कोविड-19 से सुधार की दर सबसे अधिक है, लेकिन संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।सख्त लॉकडाउन उपायों का असर चालू वित्त वर्ष की दूसरी और तीसरी तिमाही पर भी दिखेगा।


Updated : 17 Sep 2020 11:53 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top